नितिन गडकरी ने लांच किया देश का पहला सीएनजी  ट्रैक्‍टर, बोले- ये किसानों को  बनाएगा  आत्‍मनिर्भर

नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को भारत के सीएनजी चालित ट्रैक्टर का अनावरण किया और कहा कि इससे किसानों को आत्मनिर्भर बनाने में मदद मिलेगी।

सीएनजी ट्रैक्टर किसानों को आत्मनिर्भर होने का अधिकार देगा। एक किसान को अपने डीजल से चलने वाले ट्रैक्टर पर हर साल 3.5 लाख रुपये तक खर्च करने पड़ता हैं। गडकरी ने कहा कि सीएनजी ट्रैक्टर 55 प्रतिशत तक खर्च कम करेगा। दिलचस्प बात यह है कि नितिन गडकरी ने 2012 में डीजल ट्रैक्टर खरीदा था जिसे सीएनजी-पावर्ड में बदल दिया गया है। मॉडल को 6 महीने तक कठोरता से परीक्षण किया गया था।

इस ट्रैक्‍टर को लेकर दावा किया जा रहा है ये ट्रैक्‍टर किसान को ट्रैक्‍टर के ईधन की लागत का वार्षिक लगभग एक लाख रुपए की बचत करवाएगा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अनुसार देश का ये पहला सीएनजी ट्रैक्‍टर है। रावमैट टेक्नो सॉल्यूशंस और टॉमासेटो ऐशिल इंडिया की ओर से संयुक्त रूप से विकसित इस ट्रैक्टर से किसानों की लागत कम करने और ग्रामीण भारत में रोजगार के अवसर उत्‍पन्‍नह करने में भी मदद करेगा। ये ट्रैक्‍टर अधिक सुरक्षित है क्योंकि इसके टैंक पर कड़ी सील लगी हुइ है जिस कारण इसमें ईधन भरते समय टैंक फटने का खतरा न के बराबर होता है। करीब 1.2 करोड़ वाहन पहले से ही प्राकृतिक गैस से संचालित हैं और हर दिन और अधिक कंपनियां और नगर पालिकाएं सीएनजी की तरफ बढ़ रही हैं। डीजल के मुकाबले सीएनजी में कार्बन उत्सर्जन में 70 फीसदी की कमी होती है। जिससे किसानों को ईंधन की लागत में भी 50 प्रतिशत तक की बचत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.