राजनाथ बोले- नहीं छोड़ेंगे एक इंच भी ज़मीन, राहुल गांधी का वार- जवानों की बेइज्जती क्यों कर रही सरकार

आज गुरुवार को राज्यसभा में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लद्दाख में तनातनी के मसले पर सदन को संबोधित करते हुए कहा कि हम अपनी एक इंच ज़मीन भी किसी और को नहीं लेने देंगे। इसके साथ ही राजनाथ सिंह ने कहा कि दोनों देशों की सेनाएं वापस अपनी अपनी चौकी पर लौट जाएँगी। रक्षामंत्री के इस बयान पर हमला करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने कहा है कि क्यों केंद्र सरकार क्यों हमारे जवानों के बलिदान का अपमान कर रही है।

राहुल गाँधी ने ट्विटर पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा है कि वर्तमान स्थिति की कोई जानकारी नहीं, न कोई शांति और शांतिपूर्ण माहौल। साथ ही राहुल गाँधी ने लिखा है कि क्यों केंद्र सरकार हमारे जवानों के बलिदान का अपमान कर रही है और अपने देश की जमीन को  कब्जे में जाने दे रही है। 

आज सदन में रक्षा मंत्री ने कहा कि बातचीत के लिए हमारी रणनीति तथा दृष्टिकोण प्रधानमंत्री मोदी के इस दिशा निर्देश पर आधारित है कि हम अपनी एक इंच ज़मीन भी किसी और को नहीं लेने देंगे। हमारे दृढ़ संकल्प का ही यह फल है कि हम समझौते की स्थिति पर पहुंच गए हैं। साथ ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सितंबर 2020 से लगातार सैन्य और राजनयिक स्तर पर दोनों पक्षों में कई बार बातचीत हुई है कि इस सीमा विवाद को ठीक से हल करने का तरीका निकाला जाए। अभी तक वरिष्ठ कमांडर के स्तर पर 9 राउंड की बातचीत हो चुकी है।

 

 

इसके अलावा राजनाथ सिंह ने कहा कि फ्रिक्शन क्षेत्रों में सीमा विवाद को खत्म करने को लेकर भारत का यह मत है कि 2020 की फॉरवर्ड डिप्लॉयमेंट जो एक-दूसरे के बहुत नजदीक हैं वे दूर हो जाएं और दोनों सेनाएं वापस अपनी-अपनी स्थाई एवं मान्य चौकियों पर लौट जाएं। उन्होंने यह भी कहा कि पांगोंग झील क्षेत्र में चीन के साथ सीमा विवाद को लेकर  जो समझौता हुआ है उसके अनुसार दोनों पक्ष फॉरवर्ड डिप्लॉयमेंट द्विपक्षीय समझौते और मानक नियमों के तहत ही हटाएंगे।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.