संजय सिंह का मोदी सरकार पर निशाना, बोले-ये देश को बेचने वाली सरकार है

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि, केंद्र सरकार द्वारा पेश बजट 2021-22 को ‘अमीरों का बजट’ है। उन्होंने केंद्र को निशाने पर लेते हुए कहा कि, यह बजट देश की संपत्ति को बेचने के लिए है। आप रेल, सेल (एसएआईएल), कोयला, एलआईसी, बैंक, हवाईअड्डे, बंदरगाह, एफसीआई, बिजली, पानी, सड़क, बीपीसीएल बेच रहे हैं। हमारे देश की संपत्ति किसी की निजी संपत्ति नही है, ये देश के 130 करोड़ लोगों की मेहनत से जोड़ी हुई संपत्ति है।

संजय सिंह ने सदन में बजट पर बोलते हुए कहा कि, देश की इस संपत्ति का सृजन 130 करोड़ भारतीयों ने किया है और यह निजी संपत्ति नहीं है जिसे बेचा जा सके। मगर आज इस देश में भाजपा सरकार इन्हें बेचने का काम कर रही है। ये देश को बेचने वाली सरकार है। आप संसद ने कहा कि, प्रधानमंत्री ने 75 दिन से कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों को ‘आंदोलनजीवी’ कह कर उनका मजाक उड़ाया है।

संजय सिंह ने कहा कि, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का मजाक उड़ाया है , सरदार बल्लभ भाई पटेल, बाबा साहब अम्बेडकर, शहीद भगत सिंह, शहीद अशफाक उल्ला खां, डॉ राम मनोहर लोहिया और बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर का मजाक उड़ाया है। अभी तक इस आंदोलन में 170 से अधिक किसानों की मौत हो चुकी है। हमें फक्र है उन आंदोलनकारियों पर उन स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों पर जो अंग्रेजो के दलाल नहीं थे जो अंग्रेजों से माफी नहीं मानते थे।

संजय सिंह ने कहा कि, हमें क्रांतिकारियों पर, आंदोलनजीवियों पर गर्व है… वे लोग भाषणजीवी नहीं हैं। उन्होंने कहा कि सदन में चौधरी चरण सिंह का नाम लिया गया लेकिन उनके अनुयायी दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं। आप उनकी सुध नहीं ले रहे हैं, उनका मजाक उड़ा रहे हैं। जो लोग आंदोलन पर बैठे हैं वह भाषणजीवी नहीं हैं जुमलाजीवी नहीं हैं। वह आंदोलनजीवी हैं उनका मजाक देश के लोकतंन्त्र का मजाक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.