CM के भाषण के वक्त लोग करने लगे प्रदर्शन, नाराज होकर बोले KCR- तुम्हारे जैसे कई कुत्ते हैं…

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने बुधवार को एक रैली में प्रदर्शन कर रहे लोगों की तुलना ‘कुत्तों’ से कर दी। इस टिप्पणी के बाद सियासी बवाल मच गया। विपक्षी दलों ने सीएम से माफी की मांग की है।

नलगोंडा जिले के नागार्जुन सागर क्षेत्र में सरकारी योजना का शिलान्यास करने के बाद सीएम केसीआर एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान महिलाओं और युवाओं का ग्रुप सीएम को अपनी मांगों का ज्ञापन देने के लिए वहां आया। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने रैली में ही विरोध करते हुए नारेबाजी शुरू कर दी। इससे मुख्यमंत्री गुस्से से भड़क गए और उन्होंने उनके लिए अपमानजनक शब्द का इस्तेमाल कर दिया। सीएम ने उन लोगों को पिटवाने की धमकी भी दी। राव ने अफसरों से कहा, इन लोगों से ज्ञापन ले लीजिए। फिर बोले, अब यहां से चले जाइए। आप यहां रहना चाहते हैं तो शांति से बैठे रहें। नहीं तो चुपचाप चले जाएं।

 

उन्होंने कहा, आपकी बेवकूफी से किसी को परेशानी नहीं होनी चाहिए। पुलिस इन्हें बाहर निकालिए। मैं ऐसे बहुत ड्रामा देख चुका हूं। आप लोगों की तरह ऐसे बहुत सारे कुत्ते हैं। बताया जाता है कि सीएम के संबोधन के दौरान ही कुछ युवकों और महिलाओं ने नारेबाजी शुरू कर दी थी। सीएम ने प्रदर्शनकारियों को धमकी देते हुए कहा, आप बस मुट्ठी भर लोग हैं।

तेलंगाना कांग्रेस के इंचार्ज मनिक्कम टैगोर ने सीएम को चेतावनी देते हुए कहा कि ये लोकतंत्र है जनता आपको सबक सिखा देगी। उनका कहना था कि जनता ही असली बॉस है। इनकी वजह से ही चंद्रशेखऱ सीएम की कुर्सी पर बैठे हैं। उधर, बीजेपी ने भी सीएम के बर्ताव पर आपत्ति जताते हुए कहा कि उन्हें लोगों से माफी मांगनी चाहिए। जनता से अपमानजनक शब्द कहना लोकतंत्र का अपमान है। लोकतंत्र में जनता ही सर्वोपरि होती है। सीएम को उनका सम्मान करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.