तमिलनाडु और पुडुचेरी में एक साथ कराए जाएंगे विधानसभा चुनाव: मुख्य चुनाव आयुक्त

नई दिल्ली। मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) सुनील अरोड़ा ने कहा कि तमिलनाडु और पुडुचेरी में विधानसभा के चुनाव एक साथ कराए जाएंगे। शुक्रवार को पुडुचेरी में उन्होंने ये जानकारी दी है। चुनाव आयोग की टीम के साथ पुडुचेरी में इलेक्शन की तैयारियों का जायजालेने के बाद उन्होंने ये बताया है। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग का लक्ष्य स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित कराना है। जिसके लिए सभी इंतजाम किए जाएंग।

सुनील अरोड़ा ने बताया कि पुडुचेरी में इस बार मतदान केंद्रों की संख्या 952 से बढ़ाकर 1,564 की जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना को देखते हुए ये फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा भी कोरोना को देखते हुए सभी जरूरी एहतियातन कदम उठाए जाएंगे।

बता दें कि इस साल पांच राज्यों- पश्चिम बंगाल, केरल, तमिलनाडु, असम और पुडुचेरी में विधानसभा के चुनाव होने हैं। जिसके लिए चुनाय आयोग की टीम ने इन राज्यों का दौरा किया है और माना जा रहा है कि आयोग जल्दी ही तारीखों का ऐलान कर सकता है। इस साल मई और जून में इन राज्यों की विधानसभा के कार्यकाल खत्म हो रहे हैं।

इन राज्यों में पश्चिम बंगाल में सबसे ज्यादा 294 विधानसभा सीटें हैं। तमिलनाडु में 234 सीटों पर चुनाव होना है। असम में 126 और केरल में 140 सीटों पर चुनाव होंगे। केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी में 30 सीटों पर चुनाव होना है।

बता दें कि इस समय पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस की सरकार है। तमिलनाडु में ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम की सरकार है और ई पलानीस्वामी सीएम हैं। केरल में पिनराई विजयन की अगुआई में लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट की सरकार है। असम में सर्वानंद सोनवाल की अगुआई में भारतीय जनता पार्टी और पुडुचेरी में नारायणसामी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.