22 वर्षीय पद्मनाभ सिंह की लाइफस्टाइल के लाखों दीवाने, 20 हजार करोड़ की संपत्ति के हैं मालिक

जयपुर ; भारत में भले ही राजशाही खत्म हो गई हो, लेकिन राजा-महाराजाओं के वंशज आज भी सदियों से चलते आ रहे हैं और चूंकि वो राजा थे, तो जाहिर है उनके पास करोड़ों-अरबों की संपत्ति भी होगी। इन्हीं में से एक हैं पद्मनाभ सिंह, जो जयपुर के राजघराने से ताल्लुक रखते हैं या यूं कहें कि वह जयपुर रियासत के महाराजा हैं। जानकारी के अनुसार वह जयपुर के शाही परिवार के 303वें वंशज हैं। पद्मनाभ सिंह अभी महज 22 साल के हैं, लेकिन वह करीब 20 हजार करोड़ की संपत्ति के मालिक हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि पद्मनाभ सिंह का परिवार खुद को भगवान राम का वंशज बताता है।

22 वर्षीय इस महाराजा में कई खूबियां हैं। वह मॉडल तो हैं ही, साथ ही एक बेहतरीन पोलो खिलाड़ी और ट्रैवलर भी हैं। उन्हें घूमने का बहुत शौंक है। बताया जा रहा है कि वह सबसे ज्यादा खर्च घूमने पर ही करते हैं। वह अब तक कई देश घूम चुके हैं। पद्मनाभ सिंह अपने आलीशान लाइफस्टाइल के लिए फैमस हैं। जयपुर के राम निवास महल में उनका निजी आलीशान अपार्टमेंट भी है, जिसमें बेडरूम से लेकर ड्रेसिंग रूम, प्राइवेट डाइनिंग रूम, प्राइवेट किचन, बड़ा सा बरामदा और पूल भी है। इनके सोशल मीडिया पर 2 लाख से भी अधिक लोग फॉलो करते हैं।

पद्मनाभ सिंह साल 2011 में अपने दादा, सवाई मान सिंहजी बहादुर की मृत्यु के बाद राजा बने थे, जिन्हें ‘जयपुर का अंतिम महाराजा’ कहा जाता था। पद्मनाभ सिंह का शाही परिवार जयपुर के सिटी पैलेस में रहता है, जिसकी स्थापना वर्ष 1727 में हुई थी। ऐसा कहा जाता है कि जयपुर के पूर्व महाराजा भवानी सिंह भगवान राम के बेटे कुश के 309वें वंशज थे। इस राजघराने से संबंध रखने वाली पद्मिनी देवी ने खुद एक टीवी चैनल को कुछ साल पहले दिए एक इंटरव्यू में बताया था। इसके अलावा राजघराने की पूर्व राजकुमारी दीयाकुमारी भी एक ऐसा पैम्फलेट दिखा चुकी हैं, जिसमें भगवान राम के वंश के सभी पूर्वजों के नाम क्रमबद्ध रूप से दर्ज हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.