अमेरिकी ‘कैपिटल’ में हुई हिंसा का आरोपी पूर्व में एफबीआई के लिए काम कर चुका है

अमेरिका में पिछले महीने कैपिटल (संसद परिसर) पर हुए हमले में चरमपंथियों का नेतृत्व करने के आरोपी व्यक्ति को दशकों तक अति गोपनीय और सुरक्षित दस्तावेजों तक पहुंचने की अनुमति मिली हुई थी और वह पहले संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) में काम कर चुका है। आरोपी के वकील ने सोमवार को यह जानकारी दी।

अधिकारियों का कहना है कि वह ‘ओथ कीपर्स’ समूह का सदस्य है। थॉमस काल्डवेल के वकील थॉमस प्लॉफचान ने अदालत में दायर किए गए एक दस्तावेज में लिखा कि काल्डवेल ने, नौसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद 2009 से 2010 के बीच एफबीआई में सेक्शन प्रमुख के तौर पर काम किया था। प्लॉफचान ने न्यायाधीश से आग्रह किया कि उसके मुवक्किल को मुकदमे के दौरान जेल से रिहा कर दिया जाए।

बचाव पक्ष ने कहा कि काल्डवेल ‘ओथ कीपर्स’ का सदस्य नहीं है और उसे 1979 से अति गोपनीय सूचनाओं को प्राप्त करने की अनुमति मिली है जिसके दौरान वह कई विशेष जांच का हिस्सा रहा है। वकील ने कहा कि काल्डवेल एक कंपनी भी चलाता है जिसने अमेरिकी सरकार के लिए कई खुफिया काम किए हैं।

प्लॉफचान ने लिखा, “अमेरिकी सरकार द्वारा कई बार की गई जांच में उसे भरोसेमंद पाया गया है। अति गोपनीय सूचनाओं के लिए उसे मिली अनुमति से इसका संकेत मिलता है।” एफबीआई ने सोमवार शाम तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

काल्डवेल उन तीन आरोपियों में से एक है जिन्हें ‘ओथ कीपर्स’ (साजिशकर्ता समूह) बताया गया था जिन्होंने कथित तौर पर संसद परिसर पर हमले की अग्रिम साजिश रची। वह 19 जनवरी से ही गिरफ्त में है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.